ऊँ ह्रीं श्री ऋषभदेवाय नम:।

Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्ज एप पर मेसेज करें|

पूज्य गणिनी प्रमुख श्री ज्ञानमती माता जी के द्वारा अागमोक्त मंगल प्रवचन एवं मुंबई चातुर्मास में हो रहे विविध कार्यक्रम के दृश्य प्रतिदिन देखे - पारस चैनल पर प्रातः 6 बजे से 7 बजे (सीधा प्रसारण)एवं रात्रि 9 से 9:20 बजे तक|
इस मंत्र की जाप्य दो दिन 18 और 19 तारीख को करे |

सोलहकारण व्रत की जाप्य - "ऊँ ह्रीं अर्हं शक्तितस्त्याग भावनायै नमः"

अंतकृत केवली

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अंतकृत केवली
Specific omnisicient Lord, who become liber-ated after 48 minutes (Antarmuhurta) of getting omniscience. जो आठ कर्मों का अंत या विनाश करते हैं अर्थात् जिन्होंने संसार का अंत कर दिया हो ऐसे केवली ये दारुण उपसर्ग आदि सहन करके केवलज्ञानप्राप्ति के अन्तर्मुहूर्त पश्चात् ही मोक्ष प्राप्त कर लेते हैं। भगवान महावीर के तीर्थ में ऐसे १० अन्तकृत केवली हुए हैं ।