वीर निर्वाण संवत 2544 सभी के लिए मंगलमयी हो - इन्साइक्लोपीडिया टीम

Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


22 अक्टूबर को मुंबई महानगर पोदनपुर से पू॰ गणिनी ज्ञानमती माताजी का मंगल विहार मांगीतुंगी की ओर हो रहा है|

अक्षयतृतीया पर्व-२०१३

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

१३ मई- अक्षय तृतीया पर्व के अवसर पर भगवान ऋषभदेव की आहार मुद्रा वाली प्रतिमा को राजा श्रेयांश द्वारा इक्षुरस आहार एवं सभी भक्तो को इक्षुरस का प्रसाद वितरण किया गया।

अक्षय तृतीया कार्यक्रम १३ मई २०१३
Change Photo on Page 13 (1).JPG

प्रातः ६.०० बजे से भगवान ऋषभदेव पंचामृत अभिषेक एवं इक्षुरस के कलश से महाभिषेक, आहार मुद्रा वाली ऋषभदेव प्रतिमा को इक्षुरस आहारदान का दृश्य आदि जम्बूद्वीप- हस्तिनापुर में प्रतिवर्ष दिखाये जाते हैं ।