Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


खुशखबरी ! पू० गणिनी श्रीज्ञानमती माताजी ससंघ कतारगाँव में भगवान आदिनाथ मंदिर में विराजमान हैं|

अतिशय क्षेत्र सम्मेदगिरि - जबलपुर ( म.प्र.)

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


विषय सूची

श्री दिगम्बर जैन मंदिर अतिशय क्षेत्र सम्मेदगिरि ग्राम गोसलपुर, तहसील सिहोरा, जिला जबलपुर ( म.प्र.)

क्षेत्र का टेलीफोन नम्बर 07624-282361 वर्तमान में क्षेत्र के अध्यक्ष श्री धर्मचन्द जी जैन है जिनका फोन नम्बर 09424657483 है तथा यहां के मंत्री श्री अनिल कुमार जी गौसलपुर है जिनका फोन नम्बर 07624-263041 है एवं मोबाइल नम्बर 09424312022 है । यहां के प्रबन्धक श्री अखिलेश जैन है जिनका फोन नम्बर 09424283300 है । यहां आवास हेतु सुविधायुक्त 18 कमरे है तथा साधारण 30 कमरे है तथा चार हाल है । यहां वाचनालय संचालित है । दूरसंचार की सुविधाएं भी यहां उपलब्ध है । निकटवर्ती रेलवे स्टेशन गोसलपुर बस स्टेण्ड से आधा कि.मी.की दूरी पर स्थित है । निकटवर्ती तीर्थक्षेत्र जबलपुर 30 कि.मी., बहोरीबंद 35 कि.मी., पनागर 15 कि.मी. बिलहरी 60 कि.मी और मढियाजी 30 कि.मी. की दूरी पर स्थित है । यहां का वार्षिक मेला 14 दिसम्बर को आयोजित किया जाता है । यहां लगभग 30 जैन परिवार निवास करते हैं ।

शिखर सहित मंदिर का प्रवेश

As2014.JPG

शिखर

As2015.JPG

शिखर सहित क्षेत्र परिसर

As2016.JPG

वेदी में विराजमान पंचपरमेष्ठी एवं अन्य भगवान

As2017.JPG

पंचपरमेष्ठी की वेदी में विराजमान पार्श्र्वनाथ भगवान

As2018.JPG

काष्ठ का बना हृीं

As2019.JPG

बीच में वेदी व मंदिर का भीतरी भाग

As2020.JPG

शिखर सहित मंदिर का बाहरी स्वरूप

As2021.JPG

मुनि श्री 108 सम्मेद सागर जी महाराज की समाधि स्थल

As2022.JPG

मंदिर परिसर

As2023.JPG

मंदिर में जाने की सीढ़िया व कमरे

As2024.JPG

क्षेत्र तक जाता सड़क मार्ग व पीछे दिखता मंदिर व शिखर

As2025.JPG

जबलपुर हाईवे पर क्षेत्र को दर्शाता बोर्ड

As2026.JPG

मूलनायक शांतिनाथ कुंथुनाथ अरहनाथ भगवान की वेदी

As2027.JPG

पूर्ण वेदी व मंदिर का भीतरी भाग

As2028.JPG

वेदी में विराजमान बाहुबली भगवान

As2029.JPG

वेदी में विराजमान महावीर भगवान व अन्य भगवान

As2030.JPG

बीच में महावीर भगवान की वेदी व मंदिर का भीतरी भाग

As2031.JPG

क्षेत्र के विकास के प्रेरणास्रोत मुनि श्री 108 सम्मेद सागर जी महाराज

As2032.JPG

वेदी में विराजमान धातु की प्रतिमाऐं

As2033.JPG