Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


आज शीतलनाथ भगवान का केवलज्ञान कल्याणक हैं |

अतिसुषमा काल

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अतिसुषमा काल
Extremely pleasant period of worldly cycle (the 1st of Avasarpini kal & the 6th of Utsarpini kal). अवसर्पिणी काल का पहला एवं उप्सर्पिनी काल का छठा काल; जो ४ कोडा कोडी सागर वर्षा का होता है .इस काल में उत्तम भोगभूमि होती है और मनुष्यों की आयु ३ पाल्या की होती है.अपने नाम के अनुरूप इसमें संसार के समस्त सुख उपलब्ध रहते हैं।