ऊँ ह्रीं श्री ऋषभदेवाय नम:।

Whatsappicon.png
Whatsappicon.png
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें |


पूज्य गणिनीप्रमुख आर्यिकाशिरोमणि श्री ज्ञानमती माताजी द्वारा देश के समस्त जैन विद्वानों के लिए विशेष सैद्धांतिक विषयों पर ऋषभगिरि-मांगीतुंगी से विद्वत प्रशिक्षण शिविर का पारस चैनल पर ४ दिसंबर २०१६- रविवार से सीधा प्रसारण चल रहा है | घर बैठे देखकर अवश्य ज्ञान लाभ लें |

अमृतस्रावी ऋद्धि

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अमृतस्रावी ऋद्धि
A type of supernatural power of transforming food as the nectar on putting it into the hand of a great saint. Also it is a remedial super power of turning miraculously a diseased one into healthy one just by a kind looking or auspicious utterance of a great saint. जिस ऋद्धि के प्रभाव से साधु के हाथ पर रखा कैसा भी आहार अमृतमय हो जाता है अथवा जिनके वचन अमृत के सामान हितकारी होते हैं.इस ऋद्धि के प्रभाव से प्रसन्न हृदय वाले महर्षि से देखा गया रोगी जीव भी निरोगी हो जाता है ।