ऊँ ह्रीं श्री ऋषभदेवाय नम:।

Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्ज एप पर मेसेज करें|

अर्थव्यंजन पर्याय नैगमाभास

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अर्थव्यंजन पर्याय नेगमाभास
Apprehension of figurative purport (meaning) of distinct and indistinct modes. धर्मात्मा पुरूष में सुख व जीएवनपाने अथवा गुण व गुणी का सर्वथा भेद मानना ।