ऊँ ह्रीं श्री ऋषभदेवाय नम:।

Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्ज एप पर मेसेज करें|

प्रथामाचार्य श्री शांतिसागर महाराज की 62 वीं पुण्यतिथि (श्रावण शुक्ला दुतिया) 23 अगस्त को मुंबई के जैनम हाल में पूज्य गणिनी ज्ञानमती माता जी के सानिध्य में मनायी जाएगी जैन धर्मावलंबी अपने-अपने नगरों में विशेष रूप से इस पुण्यतिथि को मनाकर सातिशय पुण्य का बंध करें|
Graphics-candles-479656.gif

इस मंत्र की जाप्य दो दिन 22 और 23 तारीख को करे |

सोलहकारण व्रत की जाप्य - "ऊँ ह्रीं अर्हं साधुसमाधि भावनायै नमः"

असमान जातीय द्रव्य पदार्थ

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

असमान जातीय द्रव्य पदार्थ
Dissimilar genus event, State of dis-similarity between previous and the next Paryayas (body-forms) as a human becomes deity in the next birth.

जो अवस्था असमान परिणमन में हों , जैसे मनुष्य का देव हो जाना ।