ऊँ ह्रीं श्री ऋषभदेवाय नम:।

Whatsappicon.png
Whatsappicon.png
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें |


पूज्य गणिनीप्रमुख आर्यिकाशिरोमणि श्री ज्ञानमती माताजी द्वारा देश के समस्त जैन विद्वानों के लिए विशेष सैद्धांतिक विषयों पर ऋषभगिरि-मांगीतुंगी से विद्वत प्रशिक्षण शिविर का पारस चैनल पर ४ दिसंबर, रविवार से ११ दिसंबर २०१६, रविवार तक प्रातः ६ बजे से ७ बजे तक सीधा प्रसारण होगा | घर बैठे देखकर अवश्य ज्ञान लाभ लें |

आपके दिमाग में क्या चल रहा है, अब जान जाएंगे दूसरे लोग

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


[सम्पादन]
आपके दिमाग में क्या चल रहा है, अब जान जाएंगे दूसरे लोग

-stock-photo-3.jpg
-stock-photo-3.jpg

अब आपके दिमाग की प्राईवेसी भी खत्म होने वाली है यानि जो आपके दिमाग में चल रहा है उसका पता दूसरों को भी होगा। क्योंकि दुनियां में अब ऐसा हो चुका है। पहली बार कम्प्यूटर की मदद से एक इंसान के दिमाग की बात ८००० किमी दूर बैठे दूसरे इंसान तक पहुंचाने का सफल परीक्षण हो चुका है। ब्रेन—टू—ब्रेन कम्युनिकेशन का यह क्रांतिकारी प्रयोग कहीं और नहीं बल्कि भारत में हुआ है। हाल ही में हुए इस प्रयोग में शामिल जिन दो लोगों में बगैर बोले, बगैर लिखे और बगैर किसी हावभाव के इन शब्दों का आदान—प्रदान हुआ है, उनमें से एक भारत में बैठा था। जबकि दूसरा इंसान फ्रांस में था। हार्वर्ड मेडिकल कॉलेज के प्रोफैसर अल्वारो लेवन ने बताया कि इस प्रयोग में कम्प्यूटर ने सिर्फ एक मध्यस्थ की तरह काम किया ।

इन दोनों लोगों के बीच ‘‘होला’’ और ‘‘सिआओ’’ शब्दों का आदान—प्रदान हुआ। सूचना के इस आदान—प्रदान में दोनों लोगों (टेस्ट ऑब्जेक्ट) के दिमाग में किसी तरह की छेड़छाड़ या सर्जरी नहीं की गई थी। लेवन के मुताबिक, हम देखना चाहते थे कि क्या एक इंसान के दिमाग की बात पढ़कर उसे हजारों किमी दूर बैठे दूसरे इंसान के दिमाग तक पहुंचाया जा सकता है। पीएलओएस वन जरनल में प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक, अब तक यह काम इंटरनेट की मदद से होता आया है, जब वीडियो कॉलिंग या संदेश टाइप कर एक स्थान से दूसरे स्थान तक संदेश पहुंचाया जाता है।


युग प्रवाह '
१६ से ३० सितम्बर २०१४ '