ऊँ ह्रीं श्री ऋषभदेवाय नम:।

Whatsappicon.png
Whatsappicon.png
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें |


पूज्य गणिनीप्रमुख आर्यिकाशिरोमणि श्री ज्ञानमती माताजी द्वारा देश के समस्त जैन विद्वानों के लिए विशेष सैद्धांतिक विषयों पर ऋषभगिरि-मांगीतुंगी से विद्वत प्रशिक्षण शिविर का पारस चैनल पर ४ दिसंबर २०१६- रविवार से सीधा प्रसारण चल रहा है | घर बैठे देखकर अवश्य ज्ञान लाभ लें |

इन्हें भी आजमाइए

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


[सम्पादन]
इन्हें भी आजमाइए

Efsef.jpg
Efsef.jpg
Efsef.jpg
Efsef.jpg
Efsef.jpg
Efsef.jpg

१. मुंह में छाले हो जाये तो गुलाब को उबालकर ठंडा कर दीजिए और फिर इस पानी से कुल्ला करें। इससे मुंह के छाले ठीक हो जाते हैं।

२. दांत दर्द होने पर तुलसी के पत्ते तथा एक काली मिर्च पीसकर छोटी—छोटी गोलियां बना लें। दर्द वाले स्थान पर एक एक गोली दिन में कई बार रखने से दर्द में काफी राहत मिलेगी।

३. कपड़े पर बाल पैन का दाग लग जाये तो रूई से नेल पॉलिश रिमूवर लगाकर दाग पर रगड़े, दाग छूट जायेगा।

४. धनिए व पुदीने की चटनी में तेल गर्म कर राई का तड़का दें। इससे चटनी और अधिक स्वादिष्ट बनेगी और अधिक समय तक चलेगी।

५. कड़ाही में हरी सब्जी छोंकते समय तेल गरम होने पर पहले नमक डालें फिर सब्जी। इससे सब्जी काली नहीं होती ।

६. अंकुरित दालें तैयार करने के लिए उन्हें रात को भिगों दें। सुबह पानी निकालकर कैसरोल में बंद करके रख दें, जल्दी अंकुरित होगीं।

७. गुलाब—जामुन सख्त बन गए हों तो खाने के समय प्रेशर कुकर के कंटेनर में रखकर एक प्रेशर आने तक गरम करें। गुलाब जामुन मुलायम हो जायेगा।

८. दाल— सब्जी में घी या तेल ज्यादा हो गया हो तो ऊपर से ब्रेड स्लाइस ग्रेवी में डाल दें।वे अतिरिक्त तेल सोख लेंगे। बाद में उन्हें निकाल लें।

९. खीर के लिए यदि दूध कम हो तो ठंडे दूध में कस्टर्ड पाउडर या गरम पानी में खोए को घोल कर डाल दें।

१०. मूंगफली की बरफी बनाते समय उसमें थोड़ा सा तिल भूनकर दरदरा पीसकर मिला लें। स्वाद बढ़ जाएगा।

११. कॉफी पाउडर को एयरटाइट डिब्बे में बंद करके प्रिज में रख दें, अधिक समय तक खुशबुदार बना रहेगा।

१२. जूसर में यदि लोहे या प्लास्टिक की जाली है, तो उसे ब्रश से अच्छी तरह साफ करें। रेशे अटे रहने से उसकी कार्यक्षमता पर असर पड़ता है।

१३. प्रिज में तेज गरम समान न रखें। सामान्य तापमान पर आने के बाद ही वस्तु को उसमें रखें।

१४. चेहरे के दाग— धब्बों को दूर करने के लिए दही, ग्लिसरीन और टमाटर के गूदे का पैक लगाएं।

१५. कटे फल को प्रिज में रखने से पहले एल्यूमीनियम फॉयल या पोलिथिन शीट में लपेट कर रखें। इसी प्रकार सब्जियों को भी ताजा रखने के लिए पोलिथिन शीट में लपेट कर रखें।

१६. गरमी में चेहरे की मालिश के बाद बर्फ का टुकड़ा मलें। इससे त्वचा के खुले रोमछिद्र बंद हो जाएंगे।

१७. सब्जी में लाल मिर्च की जगह हरी मिर्च का प्रयोग करें। इससे आंखों की रोशनी ठीक रहती है।

१८. कपड़ों में स्याही लगे स्थान को गीला करके ब्लीचिंग पाउडर का घोल बनाएं। कुछ देर बाद धो दें।

१९. कीड़े— मकोड़े से बचने के लिए कूड़ेदान की तली में थोड़ा सा बोरेक्स पाउडर छिड़के।

२०. ओवन के शीशे का दरवाजा हमेशा साफ रखें। इससे एलीमेंट जलने की गंध निकल जाती है।

२१. नए ओवन को २०—२५ मिनट तक खाली चलाएं। इससे एलीमेंट जलने की गंध निकल जाती है।

२२. एक बार में ब्लेंडर को अधिक देर तक न चलाएं। उसकी मोटर जल सकती है।

२३. लगातार मेकअप से अगर चेहरा काला पड़ गया हो, तो नींबू का रस, मलाई का लेप लगाने से लाभ होता है।

२४. गेहूं के आटे में थोड़ा सा चावल का आटा मिलाकर रोटी या परांठा बनाएं। इससे वे सुपाच्य हो जाते हैं।

२५. दूध से गूंथा आटा कई दिनों तक खराब नहीं होता है। इसकी पूरियां मुलायम भी बनती है।