ऊँ ह्रीं श्री ऋषभदेवाय नम:।

Whatsappicon.png
Whatsappicon.png
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें |


पूज्य गणिनीप्रमुख आर्यिकाशिरोमणि श्री ज्ञानमती माताजी द्वारा देश के समस्त जैन विद्वानों के लिए विशेष सैद्धांतिक विषयों पर ऋषभगिरि-मांगीतुंगी से विद्वत प्रशिक्षण शिविर का पारस चैनल पर ४ दिसंबर, रविवार से ११ दिसंबर २०१६, रविवार तक प्रातः ६ बजे से ७ बजे तक सीधा प्रसारण होगा | घर बैठे देखकर अवश्य ज्ञान लाभ लें |

इन्हें भी आजमाइए,

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


[सम्पादन]
इन्हें भी आजमाइए

-stock-photo-3.jpg
-stock-photo-3.jpg
-stock-photo-3.jpg
-stock-photo-3.jpg

ब्रेड़ या सब्जी के बहुत बारीक टुकड़े काटने के लिये चाकू का प्रयोग करने से पहले कुनकुने गरम पानी में थोड़ी देर उसे डुबोये रखना चाहिये। स्वेटर बुनने वाली सलाई की घुण्डी (निचला हिस्सा) यदि टूट जाये, तो उस पर रबड़ बैंड की सहायता से रबड़ का एक छोटा सा टुकड़ा फंसा दीजिये।लीजिये आपकी दिक्कत दूर हो जायेगी।

यदि आप चाहती है कि खाने की मेज पर मक्खियां न भिनभिनायें, तो गीले कपड़े पर थोड़ा सा नमक लगाकर मेज साफ कर लीजिये।

बेकार ब्रशों को फेकिये मत। गोंददानी से गोद निकालने के लिये ऐसे ब्रश अत्यंत उपयोगी रहते हैं। इनकी मदद से पैंरों के नखों आदि पर जमी मैल को हटाया जा सकता है। हां, इसके लिये ब्रश को पहले साबुन के घोल में डुबोईये फिर मैल साफ कीजिये।

रबड़ की मोहरों के अक्षरों में प्राय: गंदगी जम जाती है, जिससे अक्षर साफ नहीं छपते, बेकार टूथ ब्रश से गंदगी सहजता से साफ करके समस्या का समाधान किया जा सकता है।

सिल पर मसाला पीसते समय उसके गड्डी में थोड़ा बहुत पदार्थ जम जाता है। बेकार टूथब्रश उस पदार्थ को वहां से साफ करने के लिये इस्तेमाल कीजिए।

यदि कपड़े को बिना हानि पहुंचाये बटन निकालना चाहती हैं तो बटन के नीचे कंघा लगाकर बटन काटिये

हरी मिर्च में पिसी हल्दी मिलाकर शीशी में बंद करके ठंडी जगह में रख दीजिये, इससे मिर्च अधिक दिनों तक ताजी बनी रहेगी।

आजाद साप्ताहिक,अगस्त— २०१४