ऊँ ह्रीं श्री ऋषभदेवाय नम:।

Whatsappicon.png
Whatsappicon.png
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें |


पूज्य गणिनीप्रमुख आर्यिकाशिरोमणि श्री ज्ञानमती माताजी द्वारा देश के समस्त जैन विद्वानों के लिए विशेष सैद्धांतिक विषयों पर ऋषभगिरि-मांगीतुंगी से विद्वत प्रशिक्षण शिविर का पारस चैनल पर ४ दिसंबर २०१६- रविवार से सीधा प्रसारण चल रहा है | घर बैठे देखकर अवश्य ज्ञान लाभ लें |

इन्हें भी आजमायें लाभ होगा

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


[सम्पादन]
इन्हें भी आजमायें लाभ होगा

  • पानी खारे होने की वजह से स्टील के जग , गिलास आदि के अंदर का पेंदा पीला व गंदा नजर आता है। रगड़ कर मांजने पर भी साफ नहीं होता हो तो उन बर्तनों में रात को चने भिगों दे। और सुबह साफ कर लें बर्तन चमक उठेंगे।
  • मलाई से घी बनाते समय अक्सर कड़ाही के नीचे घी लग जाता है जिससे कड़ाही खराब हो जाती है। घी बनाने के लिये उस बर्तन में नीचे थोड़ा सा खाने वाला तेल मल दें तथा उसमें मलाई डालकर गैस पर रख दें। उससे आपको बार बार कलछी नहीं चलानी पड़ेगी और कड़ाही में घी नहीं चिपकेगा।
  • क्राकरी धोते समय अक्सर सिंक में गिरकर टूट जाती है। उससे बचने के लिये सिंक में एक तोलिए को तह करके रख दो। बीच में छोटा सा छेद गंदा पानी जाने के लिये कर दो। फिर क्राकरी व नाजुक बरतन धो। इससे बरतन नहीं टूटेंगे।
  • सर्दियों में अक्सर नारियल का तेल जम जाता है जिससे उसका इस्तेमाल करना मुश्किल हो जाता है। यदि नारियल के तेल में १ बूंदे केस्टर ऑइल की डालें तो नारियल का तेल जमेगा नहीं।
  • सिरदर्द होने पर एक एक लोंग सुबह शाम पानी से लें।
  • शुद्ध घी की ताजगी बरकरार रखने के लिये नींबू की पत्ती डालकर गरम करें।
  • कपड़ों पर खून के दाग नमक के पानी से साफ करें।
  • पत्ते वाली सब्जी को देर तक ताजा रखने के लिये उसे साफ करके काटकर पॉलिथिन की थैली में भर लें और प्रिज में रख दें।
  • फूलदान में फूल लगाते समय पानी में थोड़ा सा पिसी कोयला और नमक डाले। फूल देर तक ताजे रहेंगे।
  • यदि आप घर में कोई पार्टी आयोजित कर रही हैं तो खाने पीने की सारी तैयारी मेहमानों के आने के पहले हो जानी चाहिए । पहले और बाद में क्या क्या खिलाना है, यह भी तय कर लें तो बेहतर रहेगा।
  • जुकाम होने पर शुद्ध सरसों का तेल नाक में लगाने से राहत मिलती है।
  • एसिडिटी होने पर आंवला चूर्ण आधा चम्मच भोजन के बाद लेने पर आराम मिलेगा।
  • हल्दी, सरसों का तेल और नमक मिलाकर दांतों पर रोज मलने से दांत खराब नहीं होते।
  • भिंडी जैसी लसलसी सब्जी काटने से पहले हाथों पर थोड़ा सा तेल मल लें। इससे सब्जियोंं को काटने में सुविधा होगी।
  • मक्के के आटे को गरम पानी से गूंथने पर उसे बेलने में आसानी रहती है।
  • सरसों के तेल की प्रतिदिन मालिश करने से खुजली में आराम मिलता है।
  • इमली को हींग और नमक मिलाकर धूप में सुखाकर रख दिया जाए तो यह अधिक समय तक इस्तेमाल के लायक बनी रहती है।
  • त्वचा के रंग को निखारने के लिये फिटकरी के पानी का लेप नहाने से पहले शरीर पर लगाएं और आधे घंटे बाद नहा लें।
  • नींबू की फांके नियमित रूप से नाखूनों पर रगड़ने से नाखूनों की स्वाभाविक चमक बरकरार रहती है।
  • सूखी बूट पॉलिश की डिब्बी को कुछ देर गरम पानी में रखने पर वह इस्तेमाल करने लायक हो जायेगी।



आजाद साप्ताहिक, अजमेर
२६ जनवरी,२०१५