ऊँ ह्रीं श्री ऋषभदेवाय नम:।

Whatsappicon.png
Whatsappicon.png
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें |


पूज्य गणिनीप्रमुख आर्यिकाशिरोमणि श्री ज्ञानमती माताजी द्वारा देश के समस्त जैन विद्वानों के लिए विशेष सैद्धांतिक विषयों पर ऋषभगिरि-मांगीतुंगी से विद्वत प्रशिक्षण शिविर का पारस चैनल पर ४ दिसंबर २०१६- रविवार से सीधा प्रसारण चल रहा है | घर बैठे देखकर अवश्य ज्ञान लाभ लें |

उत्तपम

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


[सम्पादन]
उत्तपम

उत्तपम दाल चावल और हरी सब्जियों से बनता है। ये खाने में स्वादिष्ट होने के साथ—साथ पौष्टिक भी होता है। इसे बहुत कम तेल में बनाया जाता है और इसे बनाना काफी आसान भी है।

जरूरी सामग्री: मोटा चावल ३०० ग्राम (१.५ कप), उरद की दाल—१०० ग्राम (१/२ कप), नमक स्वादानुसार (एक छोटी चम्मच), खाने का सोडा— आधा छोटी चम्मच, टमाटर —२—३ मध्यम आकार, राई -२ छोटी चम्मच, तेल २-३ टेबल स्पून

बनाने की विधि: दाल चावल को साफ करके धो लें। इन्हें ४-५ घंटे के लिए अलग—अलग पानी में भिगो कर रख दें।

भीगी हुई दाल को मिक्सी में बारीक पीस कर बाउल में निकाल लें। चावल को हल्का दरदरा पीसें और इसे भी दाल वाले बाउल में ही निकाल लें। इस मिश्रण में खाने का सोडा और नमक मिला कर इसे अच्छे से मिला लें। ध्यान रखें कि मिश्रण इतना गाढ़ा हो कि चम्मच से गिराने पर वो धार की तरह ना गिरे । अब इसे ढक कर रख दें ताकि इसमें खमीर उठ जाए। गरम मौसम में १२ घंटों में खमीर उठ जाता है और ठंडे मौसम में २४ घंटों में खमीर उठ जायेगा।

खमीर उठने के बाद मिश्रण फूल कर दोगुना हो जायेगा। इसे चम्मच से अच्छे से चला दें। उत्तपम के लिए मिश्रण तैयार है। डोसा और इडली के लिए भी इसी प्रकार मिश्रण को तैयार किया जाता है। टमाटर को अच्छे से धो कर छोटा—छोटा काट लें।

अब नान स्टिक तवे को गरम करके उस पर १ छोटी चम्मच तेल डाल लें, तेल में २ पिंच राई डालें। जैसे ही राई तडकने लगे इस पर २ चम्मच तैयार मिश्रण को डाल कर ५-६ इंच के व्यास में मोटा गोल फैला लें। इसके ऊपर २ चम्मच टमाटर डालकर चम्मच से हल्का सा दबा दें ताकि वे चिपक जाएं। उत्तपम के ऊपर और चारों तरफ हल्का सा तेल डाल लें। गैस धीमी रखें और किसी प्लेट से इसे ढक कर निचली सतह के हल्का ब्राउन होने तक सेक लें २-३ मिनट में जब इसकी निचली सतह सिक जाए तो इसे कलछी की मदद से पलट दें। जब दूसरी सतह भी सिक जाए तो उत्तपम तैयार है। इसे प्लेट में निकाल लें।

गरमा गरम उत्तपम को नारियल मूंगफली या पसंद की किसी भी चटनी के साथ परोसें। आप इसे सांबर के साथ भी परोस कर खा सकते हैं।