ऊँ ह्रीं श्री ऋषभदेवाय नम:।

Whatsappicon.png
Whatsappicon.png
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें |


पूज्य गणिनीप्रमुख आर्यिकाशिरोमणि श्री ज्ञानमती माताजी द्वारा देश के समस्त जैन विद्वानों के लिए विशेष सैद्धांतिक विषयों पर ऋषभगिरि-मांगीतुंगी से विद्वत प्रशिक्षण शिविर का पारस चैनल पर ४ दिसंबर २०१६- रविवार से सीधा प्रसारण चल रहा है | घर बैठे देखकर अवश्य ज्ञान लाभ लें |

उमता, महसाना (गुजरात)

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


विषय सूची

[सम्पादन]
श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र उमता तहसील विस नगर, जिला महसाना (गुजरात)

क्षेत्र का टेलीफोन नम्बर 02765-289085 यह क्षेत्र मेहसाणा से 28 व तांरगा से 35 किमी की दूरी पर है।वर्तमान में इस क्षेत्र के अध्यक्ष श्री एल.एल.छाबडा है, जिनका फोन नम्बर 09314036565, 0141-2316565 है । यहां के प्रबन्धक मुनि श्री निर्भयसागर जनकल्याण समिति, उमता है । यहां यात्रियों के आवास हेतु 9 कमरे अटेच लेट-बाथरूम वाले है तथा साधारण 2 कमरे एवं दो बडे हाल है तथा एक जनरल गेस्ट हाउस है । यहां यात्रियों के लिए भोजनशाला अभी निर्माणाधीन है, जो शीघ्र ही प्रारम्भ होने की सम्भावना है । पुस्तकालय एवं दूरसंचार की सुविधा भी यहां पर उपलब्ध है । निकटवर्ती रेलवे स्टेशन- विस नगर 8 कि.मी. एवं बस स्टेण्ड उमता ही है। निकटवर्ती तीर्थ क्षेत्र- तारंगा 35कि.मी., इडर वडाली 75 कि.मी., पावागढ 255 तथा गिरनारजी 355 कि.मी. की दूरी पर स्थित है । यहां का वार्षिक मेला प्रतिवर्ष आचार्य श्री निर्भय सागर जी महाराज के दीक्षा दिवस के पावन अवसर पर आयोजित किया जाता है एवं महावीर जयन्ती को मनाया जाता है ।

[सम्पादन]
अस्थाई वेदी में विराजमान भगवान

अस्थाई वेदी में विराजमान भगवान.JPG

[सम्पादन]
उमता अतिशय क्षेत्र पर लगा महाराजश्री का चित्र

उमता अतिशय क्षेत्र पर लगा महाराजश्री का चित्र.JPG

[सम्पादन]
क्षेत्र पर खुदाई के दौरान निकली प्रतिमाएंे

क्षेत्र पर खुदाई के दौरान निकली प्रतिमाएंे.JPG

[सम्पादन]
खुदाई के दौरान टीले में से निकला वह मंदिर जिसमें से प्रतिमाऐं निकली

खुदाई के दौरान टीले में से निकला वह मंदिर जिसमें से प्रतिमाऐं निकली.JPG

[सम्पादन]
पद्मावती माता की वेदी

पद्मावती माता की वेदी.JPG

[सम्पादन]
प्राचीन मंदिर में विराजमान चक्रेश्वरी माता

प्राचीन मंदिर में विराजमान चक्रेश्वरी माता.JPG

[सम्पादन]
बीच में पूर्ण वेदी व मंदिर का भीतरी भाग

बीच में पूर्ण वेदी व मंदिर का भीतरी भाग.JPG

[सम्पादन]
मंदिर का प्रवेश द्वार

मंदिर का प्रवेश द्वार.JPG

[सम्पादन]
यह प्राचीन समय में मंदिर का प्रवेश द्वार रहा होगा

यह प्राचीन समय में मंदिर का प्रवेश द्वार रहा होगा.JPG

[सम्पादन]
वेदी में विराजमान आदिनाथ भगवान की पूर्ण वेदी

वेदी में विराजमान आदिनाथ भगवान की पूर्ण वेदी.JPG

[सम्पादन]
वेदी में विराजमान आदिनाथ भगवान

वेदी में विराजमान आदिनाथ भगवान.JPG

[सम्पादन]
वेदी में विराजमान कुष्माडिनी देवी

वेदी में विराजमान कुष्माडिनी देवी.JPG

[सम्पादन]
वेदी में विराजमान चक्रेश्वरी माता

वेदी में विराजमान चक्रेश्वरी माता.JPG