Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


२५ अक्टूबर २०१९ तक गणिनीप्रमुख श्री ज्ञानमती माताजी ससंघ का दरियाबाद (उ.प्र) में प्रवास रहेगा |

पारस चैनल पर प्रातः ६ से ७ बजे तक देखें जिनाभिषेक एवं शांतिधारा पुन: ज्ञानमती माताजी - चंदनामती माताजी के प्रवचन ।

ऋषभदेव

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

ऋषभदेव-
जैनधर्म के प्रथम तीर्थंकर का नाम ऋषभदेव है|

जन्म

भगवान ऋषभदेव का जन्म अयोध्या में हुआ था

परिचय

यहाँ भी देखे ०१. आदिनाथ भगवान का परिचय