ऊँ ह्रीं श्री ऋषभदेवाय नम:।

Whatsappicon.png
Whatsappicon.png
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें |


पूज्य गणिनीप्रमुख आर्यिकाशिरोमणि श्री ज्ञानमती माताजी द्वारा देश के समस्त जैन विद्वानों के लिए विशेष सैद्धांतिक विषयों पर ऋषभगिरि-मांगीतुंगी से विद्वत प्रशिक्षण शिविर का पारस चैनल पर ४ दिसंबर २०१६- रविवार से सीधा प्रसारण चल रहा है | घर बैठे देखकर अवश्य ज्ञान लाभ लें |

एंटी ऑक्सीडेंटस का उत्तम स्रोत है चाय

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


[सम्पादन]
एंटी ऑक्सीडेंटस का उत्तम स्रोत है चाय

7021-illu.png
7021-illu.png

यू.एस.डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर एंड हयूमन न्यूट्रीशनल रिसर्च के विशेषज्ञों द्वारा किए गए एक शोध के अनुसार चाय एंटी आक्सीडेंटस का उत्तम स्रोत है जिससे बहुत से स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं। हरी और काली चाय में पाया जाने वाला पॉलीफीनोल अन्य किसी एंटी आक्सीडेंट की तरह शरीर के सेल्स को सुरक्षा प्रदान करता है। इस शोध में यह भी पाया गया कि चाय में मौजूद एंटी आक्सीडेंटस की क्षमता फलों व सब्जियों की तुलना में अधिक होती है। एक संतरे के रस के कप में पायी जाने वाली एंटी आक्सीडेंट क्षमता की तुलना में यह क्षमता एक कप चाय में ४०० प्रतिशत अधिक होती है। काली चाय में पाए जाने वाले एंटीआक्सीडेंट एल डी एल कोलेस्ट्रोल के आक्सीकरण को रोकते हैं । यह आक्सीकरण आर्थोक्लोरोसिस की संभावना को बढाता है। यही नहीं, चाय पीने वाले व्यक्तियों में हृदय रोगों की संभावना भी कम पायी जाती है। हरी चाय कई संक्रामक बीमारियों जैसे पेचिश, सिरदर्द और हाईपरेंटशन में भी लाभप्रद है। नियमित चाय का सेवन फैफड़ों, पैनक्रियास , प्रोस्टेट और कोलोन कैंसर की संभावना को कम करता है।

जिनेन्दु
२ सितंबर, २०१४