ऊँ ह्रीं श्री ऋषभदेवाय नम:।

Whatsappicon.png
Whatsappicon.png
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें |


पूज्य गणिनीप्रमुख आर्यिकाशिरोमणि श्री ज्ञानमती माताजी द्वारा देश के समस्त जैन विद्वानों के लिए विशेष सैद्धांतिक विषयों पर ऋषभगिरि-मांगीतुंगी से विद्वत प्रशिक्षण शिविर का पारस चैनल पर ४ दिसंबर २०१६- रविवार से सीधा प्रसारण चल रहा है | घर बैठे देखकर अवश्य ज्ञान लाभ लें |

कंबापुरी कंबदहल्लि

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


विषय सूची

[सम्पादन]
श्री अतिशय क्षेत्र कंबापुरी कंबदहल्लि

क्षेत्र परिचय - यह क्षेत्र श्रवणबेलगोला से 18 किमी. दूर मडिया रोड पर स्थित हैै। यहां मन्दिर मे खुले मे आदिनाथ भगवान की खडगासन प्रतिमा महाअतिशय कारी हैं। जो भी भक्तगण इस प्रतिमा के आगे ध्यान लगाकर दर्शन कर मन्नत मांगते है। उनकी मनोकामना पूर्ण होती है। यहाँ मन्दिर मे मूलनायक आदिनाथ भगवान की प्रतिमा विराजमान है। मन्दिर मे ही भगवान महावीर की प्रतिमा दांये तरफ है, जो अपने अलग-अलग भाव बदलती है। यहाँ का मन्दिर बडे-बडे पत्थरो से बना हुआ है, जो अभी जीर्ण अवस्था मे है, जिसका जीर्णोद्धार का कार्य प्रगति पर है।


[सम्पादन]
मन्दिर परिसर मे सीधे हाथ मे नेमीनाथ भगवान

KAMBADHALLI 1.JPG

[सम्पादन]
मूलनायक आदिनाथ भगवान व दोनो तरफ पार्श्वनाथ भगवान की खडगासन प्रतिमा

KAMBADHALLI 2.JPG

[सम्पादन]
चमत्कारी महावीर स्वामी

KAMBADHALLI 3.JPG

[सम्पादन]
पत्थरो पर प्राचीन खुदाई का मन्दिर

KAMBADHALLI 4.JPG

[सम्पादन]
मन्दिर के साईड का चित्र

KAMBADHALLI 5.JPG

[सम्पादन]
मनोकामना पूर्ण करने वाले आदिनाथ भगवान

KAMBADHALLI 6.JPG

[सम्पादन]
मन्दिर परिसर मे पडी खण्डित प्रतिमांए

KAMBADHALLI 7.JPG

[सम्पादन]
पत्थरो की चट्टानो से बना मन्दिर

KAMBADHALLI 8.JPG

[सम्पादन]
मन्दिर मे विशाल खडगासन खण्डित प्रतिमा

KAMBADHALLI 9.JPG

[सम्पादन]
मन्दिर की गुम्बज पर बनी भगवान व कलाकृति

KAMBADHALLI 10.JPG

[सम्पादन]
जीर्णोद्धार होता हुआ मन्दिर

KAMBADHALLI 11.JPG

[सम्पादन]
कलात्मक स्वरूप् मन्दिर

KAMBADHALLI 12.JPG