Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


आचार्य शांतिसागर मुनि दीक्षा शताब्दी वर्ष समारोह का 20 मार्च को मध्यान्ह 4 से 5 पारस पर हुआ सीधा प्रसारण- देखें जिओ टीवी.पर

पारस चैनल पर प्रातः ६ से ७ बजे तक देखें पू.श्री ज्ञानमती माताजी एवं श्री चंदनामती माताजी के प्रवचन |

घर के आसपास लगे कुछ पौधे मच्छरों से बचा सकते हैं

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


घर के आसपास लगे कुछ पौधे मच्छरों से बचा सकते हैं

Flower-Border.png
Flower-Border.png

घर के आसपास लगे कुछ पौधे मच्छर से बचाव के लिए सुरक्षा कवच का काम कर सकते हैं। इंडियन जर्नल ऑफमेडिकल रिसर्ज के हाल ही प्रकाशित शोध पत्र में इस बात का खुलासा किया है। इसमें पाया गया है कि मच्छरों से बचने के लिए किए गए रसायनिक छिड़काव की जगह घर के किचन गार्डन में लगे कुछ जाने—माने पौधे ही मच्छरों से मुकाबला करने के लिए काफी है।

सदाबहार, सांची, गार्डेनिया जैसे पौधों को हम केवल उनके खूबसूरत फूलों की वजह से जानते हैं। आयुर्वेद में भी कभी इनका प्रयोग डायबिटिज या फिर ब्लडप्रेशर को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है लेकिन पहली बार इनकों मच्छरों के लार्वा खत्म करने के लिए भी बेहतर माना गया है। शोधकर्ता अनुपम घोष ने बताया कि देश में हर साल मच्छर जनित बीमारियों के बढ़ते आंकड़ों को देखते हुए इससे बचाव के लिए नये विकल्प पर विचार किया जाना चाहिए।

अब तक किए गए अध्ययन में यह भी देखा गया है कि लंबे समय तक स्प्रे या फिर मच्छर रोधी छिड़काव सेहत के लिए ठीक नहीं है । यही कारण है कि शुरू से ही मच्छरों से बचाव पर अधिक ध्यान दिया जाता है। इसी क्रम में बायोलॉजिकल स्प्रे में कुछ पौंधो की पत्तियों के मिश्रण से मच्छरों को दूर भगाया जा सकता है। शोध के आधार पर अब पौधों से तैयार स्प्रे को नियमित मच्छर रोधी कार्यक्रम में शामिल करने की पैरवी की जा रही है। अहम यह है कि इन पौधों को असानी से घर पर लगाया जा सकता है।