Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


आचार्य शांतिसागर मुनि दीक्षा शताब्दी वर्ष समारोह का 20 मार्च को मध्यान्ह 4 से 5 पारस पर हुआ सीधा प्रसारण- देखें जिओ टीवी.पर

पारस चैनल पर प्रातः ६ से ७ बजे तक देखें पू.श्री ज्ञानमती माताजी एवं श्री चंदनामती माताजी के प्रवचन |

घीया—गुड़ का पौष्टिक हलवा

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


घीया—गुड़ का पौष्टिक हलवा

क्या आपने कभी घीया—गुड़ का हलवा खाया है । अगर अभी तक नहीं खाया तो अब जरूर टेस्ट करें। यह बेहद स्वादिष्ट और पौष्टिक होता है। इसके अलावा इसे बनाने में ज्यादा मशक्कत भी नहीं करनी पड़ती है। इस आर्टिकल में आपको घीया—गुड़ का हलवा बनाने की विधि बता रहे हैं। सामग्री:— २५० ग्राम ताजी घीया (लौकी), घी—एक चम्मच, इलायची पाउडर— आधा चम्मच , खोपरा बूरा— दो चम्मच, मेवे की कतरन— दो चम्मच गुड़ — स्वादानुसार, में घी गरम करके उसमें कसी हुई लौकी डालें और धीमी आंच पर अच्छी तरह सेंक लें। इसके बाद एक पतीली में थोड़ा पानी गर्म करें। गुड़ का बारीक चूरा कर लें। गर्म पानी को जरूरत के हिसाब से लौकी में डालें। ऊपर से गुड़ भी मिलाएं। अब इसे कुछ देर तक अच्छी तरह से हिलाएं । गाढ़ा होने पर इलायची पावडर, खोपरा बूरा डालकर मिला लें। ऊपर से मेवे की कतरन मिलाकर गरमा—गरम घीया—गुड़ का शाही हलवा सर्व करें।