Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


गणिनीप्रमुख श्री ज्ञानमती माताजी ससंघ का मंगल पदार्पण जन्मभूमि टिकैतनगर में १५ नवंबर को

पारस चैनल पर प्रातः ६ से ७ बजे तक देखें जिनाभिषेक एवं शांतिधारा पुन: ज्ञानमती माताजी - चंदनामती माताजी के प्रवचन ।

चम्पापुर

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

चम्पापुर
An ancient Digambar Jain place of pilgrimage near Bhagalpur, Bihar, where 5 auspicious events (Panchkalyanaks) of the life of Lord Vasupujyanath took place.

वासुपूज्यनाथ तीर्थंकर की पञ्चकल्याणक स्थली, वर्तमान बिहार प्रांत में यह तीर्थ स्थित है. यहाँ भगवन वासुपूज्यनाथ के गर्भ एवं जन्मकल्याणक हुए हैं. इस क्षेत्र के नजदीक ही मंदारगिरि है जहां इन्हीं भगवान के अन्य तीन कल्याणक हुए हैं . अतएव यह स्थली भगवान वासुपूज्यनाथ की पंचकल्याणक स्थली के रूप में मान्य है . लेकिन यही एक ऐसा तीर्थ है जहां किसी तीर्थंकर के पांचों कल्याणक एक ही स्थान पर हुए हैं ।