Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


पूज्य गणिनीप्रमुख श्री ज्ञानमती माताजी ससंघ ऋषभदेवपुरम्-मांगीतुंगी में विराजमान है ।

प्रतिदिन पारस चैनल के सीधे प्रसारण पर प्रातः 6 से 7 बजे तक प.पू.आ. श्री चंदनामती माताजी द्वारा जैन धर्म का प्रारंभिक ज्ञान प्राप्त करें |

जैन हर्बल्स कंपनी-मुम्बई द्वारा उत्पादित

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

विषय सूची

जैन हर्बल्स कंपनी-मुम्बई द्वारा उत्पादित अहिंसक प्रसाधन सामग्री

अहिंसक पदार्थों की शृंखला में एक अन्य नाम है ‘वनौषधियों’ का, जिनका उत्पादन डॉ. उर्जिता जैन (एम.डी.)-मुम्बई द्वारा संचालित ‘वनौषधि केन्द्रों’ में किया जा रहा है। स्वास्थ्य एवं सौंदर्य के क्षेत्र में पूर्णतया वनस्पति आधारित इन अहिंसक पदार्थों की लिस्ट यहाँ प्रस्तुत है, ताकि सुधीपाठक इन प्रतिदिन काम आने वाली वस्तुओं के प्रयोग से अपने अहिंसा व्रत को संरक्षित रख सके।

शाश्वत सौंदर्य का सदियों पुराना राज'
बालों की देखभाल

जास्वंद जेल (बालों की देखभाल के लिए)

यह शुद्ध जेल ताजे, प्राकृतिक जास्वंद फूलों के संयुक्त तत्त्व से बना है जिसमें बालों की देखभाल करने वाली अन्य वनौषधियाँ भी हैं। बालों के गिरने की शुरुआत होते ही या बालों का जगह-जगह कम होना देखते ही इस्तेमाल शुरु करें। यह बालों का उगाना तेज करता है। बालों को नर्म-मुलायम, स्वस्थ एवं संवारने योग्य बनाता है। सिर की त्वचा को गर्मी से राहत देता है। रुसी, सर की त्वचा के दूषण, तथा समय पूर्व बालों को पकने से रोकता है।

हेरोमा (अरोमा केश तेल)—

सुंदर बालों के लिए यह १०० प्रतिशत कुदरती केश तेल अरोमाथेरपि तेलों से युक्त है। यह तिल तेल, बादाम, व्हीटजर्म तेल, जेरॅनियम, रोजमेरी, मोतिया रोशा इत्यादि तेलों का एक सुंदर मिश्रण है। यह सुगंधी, चिपचिपारहित है और बालों को झड़ने से रोककर सुंदर बनाता है।

केशिका (बाल धोने के लिए) —

बालों को धोने का १०० प्रतिशत प्राकृतिक उपाय। शैम्पू और साबुन का उत्तम पर्याय, इसमें कोई भी रासायनिक द्रव्य नहीं। शिकाकाई, रिठा, क.सुगंधी और संतरा छाल से युक्त।पुरुष और महिलाओं द्वारा नियमित उपयोग के लिए आदर्श, बस पानी मिलाकर पेस्ट बनाइए, लगाइए और सिर की त्वचा पर मालिश करके धो डालिए। बालों में कुदरती चमक-दमक और उछाल आ जायेगा।

ट्रायडॉफ (बालों में डेंड्रफ होना)—

यह सिर की त्वचा की कोमलता से सफाई करे, मृत त्वचा को अलग करे। जलन और संक्रमण से बचाये। सिर की त्वचा की अतिरिक्त गर्मी मिटाये। अ‍ेलो वेरा जेल (पतला) के साथ पेस्ट बनाइए। सिर की त्वचा पर धीरे-धीरे मालिश कीजिए। २० मिनिट बाद धो डालिए। बाल नर्म-मुलायम, रेशमी और डैंड्रफ (रूसी) से मुक्त हो जायेंगे। सप्ताह में दो-बार, सिर धोने से पहले इस्तेमाल करें। उम्र चाहे जो हो।

न्यू क्रॉप (केश वर्धक)—

जास्वंद, ब्राह्मी, कुलिंजन, जटामांसी जैसी वनौषधियाँ बालों का गिरना रोकती है। नये स्वस्थ बालों को उगाने में सहायता देती है। रूसी से बचाता है। बालों की जड़ों को नया जीवन देता है। अ‍ेलो वेरा जेल (पतला) में पेस्ट बनाकर मस्तिष्क पर मालिश कीजिए। २० मिनिट बाद धो डालिए। बीमारी आदि या प्रसूती की वजह से अचानक गिरते बालों को रोकता है।

ग्रेनिल (सफेद बालों के लिए)—

सफेद बालों के लिए १०० प्राकृतिक उपाय। कुदरती वनौषधियाँ, जैसे आंवला, मेहंदी, जास्वंद, इंडिगो तथा सोफिया तेल से निर्मित। ये सिंथेटिक हेयर डाइ में पाये जानेवाले हानिकारक रसायनों से मुक्त है। बालों का गिरना रोकता है। बालों को मुलायम बनाता है तथा बालों को समय से पहले सपेâद होने से बचाता है।

त्वचा की देखभाल

हर्बोलेप (उबटन) — इसमें उबटन है, जो भारत में प्राचीन काल से त्वचा को निखारने, उसे नया जीवन देने और रक्त संचार को सुधारने के लिए प्रयोग में लाया जाता रहा है। इसकी पानी में बनाई पेस्ट को चेहरे व शरीर पर लगाइए, कुछ समय तक मलिए, और फिर पानी से धो डालिए। नर्म, मुलायम और सुंदर त्वचा के लिए, रोजाना नहाने से पहले इस्तेमाल करें।

लेपैक ओ एण्ड डी (चेहरे की निगरानी)—

तैलीय व शुष्क त्वचा के लिए फैस पैक, लेपैक-ओ, नीम तथा मुलतानी मिट्टी युक्त है जो गंदगी व मृत कोशिकाओं को साफ करता है। तैलीय गाठों को बंद करता है तथा तैलीय त्वचा को पुनर्जावित करता है। लेपैक-डी, गुलाब तथा चंदन युक्त है जो शुष्क त्चचा को कोमल, स्वस्थ बनाकर रौनक देता है, पानी से पेस्ट बनाइए। २० मिनिट तक लगाइए, फिर धो डालिए।

तेजस (तेजस्वी चेहरा)—

खुरदरी और बेजान त्वचा से कहिए अलविदा, अश्वगंधा, चंदन तथा हल्दी त्वचा के रोम छिद्रों को खोलें। त्वचा की गंदगी और धूल को बाहर निकालें। बेजान त्वचा को दे रौनक और चेहरे पे लाए प्रकृतिक निखार। पानी में पेस्ट बनायें, चेहरे पर यह पेस्ट लगाकर धीरे-धीरे मालिश करें। २० मिनिट तक लगाइए, फिर धो डालिए।

फैअरकॉम (गोरी त्वचा)—

गुलाब, नीम, पपया, काकड़ी जैसी वनौषधियाँ त्वचा पर बड़ी कोमलता से असर करती हैं तथा आपका धीरे-धीरे ही सही, पर निश्चित तौर पर, रंग निखारती हैं। सप्ताह में दो बार, तीन महिने तक इस्तेमाल कीजिए। इसमें कोई हानिकारक रसायन, ब्लीच नहीं है। रंग निखारने का यह बड़ा ही सुरक्षित उपाय है। पानी में मिलाकर यह पेस्ट त्वचा पर लगायें तथा २० मिनिट बाद धो डालें।

सतेज (चेहरे के दाग के लिए)—

अ‍ेलो, पपया, अंबा हल्दी तथा गुलाब आपके चेहरें से दाग-धब्बों को बड़ी ही कोमलता से, बिना नुकसान पहुँचाए, दूर करते हैं। आपके रंग-रूप को बेदाग, रौकनदार रखते हैं। पानी से पेस्ट बनाकर प्रभावित हिस्सों पर लगाइए। २० मिनिट तक लगाये रखें व धीरे-धीरे मालिश करें, फिर पानी से धो डालें।

पिप्लॉर (मुँहासों के लिए)—

अर्जुन, पपया, जामुन, लाल चंदन, मंजिष्ठा जैसी वनौषधियाँ हैं जो कीटाणुओं का नाश करके त्वचा को साफ-सुथरा रखती हैं। ये असरदार वनौषधियाँ आपकी त्वचा के रंध्रों को खोल देती हैं। आपको सिर्प इतना ही करना है कि पानी में पेस्ट बनाकर प्रभावित हिस्सों पर लगाना है। २० मिनिट बाद धो डालें।

कुकुंबर जेल (त्वचा निखार)—

बिल्कुल ताजा और खास किस्म की ककड़ियो से निर्मित। बिना किसी रसायन या घोलक की प्रक्रिया से बना। चेहरे व त्वचा की कोमलता की हिफाजत करें। इसका उपयोग सौंदर्य उत्पादनों, स्किन टॉनिक, फैस पैक में किया जा सकता है। त्वचा उचटने व दाद आदि के दागों पर उपयोगी है। नियमित उपयोग से मुहांसे, दाग-धब्बे, झुर्रियां व चेहरे की शुष्कता जाती रहती है। लू लगने पर भी उपयोगी है। रंग रूप को निखारती है।

अ‍ॅलो वेरा/कुकुंबर जेल (१००/५०० ग्राम)—

यह एक नया, विकसित फॉम्र्युला विशेष रूप से सौंदर्यतज्ञ और बड़े परिवारों को इस्तेमाल करने के लिए बनाया गया है। बड़ी बोतल होने से उँगलीयोंसे या चम्मच से आसानी से इसे निकाल सकते हैं। इस फॉम्र्युला में नया और उत्तम गाढा द्रव इस्तेमाल किया है।

डोनाकेयर (हर्बल केश जेल)—

डोनाकेयर हेयर जेल यह केश्य वनौषधि और बालों के लिए उपयुक्त ऐसे अरोमाथेरपि तेलोंसे बनाया है। बाल गिरना, बालों में रूसी, असमय बाल सफेद होना रोककर बालो की त्वचा में खून का सप्लाय बढ़ाता है और केशग्रंथी को उत्तेजित कर उन्हें कार्यरत करता है।

अ‍ॅलो वेरा जेल-वी (त्वचा की सुरक्षा)—

यह जलने, झुलसने, सिर की त्वचा की गर्मी, हाथ-पैरों के फटने, कीटकों को काटने तथा डंक मारने, जूता लगने व नैपी खरोंचो के लिए बेमिसाल है। इसके झुर्रियारोधी गुणों के कारण इसे आदर्श सौंदर्य उपचार माना जाता है।यह खरोंचों के निशान मिटा देता है। यह पुरुषों के लिए भी आफ्टर शेव जेल के रूप में उपयुक्त है। इसमें एन्टीएजिंग गुणधर्म भी हैं।

अ‍ॅलो वेरा जेल लिक्वीड (पातळ)—

प्राकृतिक मॉइश्चराइजर, यह त्वचा से धूल, चिकनाई, पसीना, भद्दा मेकअप आदि साफ करने में सहायता करता है। आँखों के इर्द-गिर्द भी बेसाख्ता इस्तेमाल किया जा सकता है। सोने से पहले रोजाना इस्तेमाल करें। नाक, ठुड्डी, गर्दन व कान की जुड़वा जगहों पर विशेष ध्यान दें। बालों के फॉम्र्युले में इसका इस्तेमाल पेस्ट बनाने के लिए किया जाता है।

कोमल (बेबी मसाज ऑइल)—

नर्म-मुलायम, पोषक और गुणकारी बेबी ऑईल, जो शिशु की त्वचा को स्वस्थ और कोमल बनाए रखे। कोमल में है लॅवेंडर, जो आराम की नींद लाए। बादाम और व्हीटजर्म त्वचा के लिए टॉनिक का और जोजोबा वैरियर (वाहक) का काम करे। तो हर दिन अपने शिशु को थोड़े से कोमल से मालिश कीजिए और अपने मुन्ने को स्वस्थ-तंदुरुस्त व हंसता-मुस्कराता रखिए।

जास्वंद केश तेल (हर्बल केश तेल)—

केशवर्धक वनौषधीयों से युक्त यह एक खुशबूदार केश तेल है। जिनके बाल रूखे एवं पतले हैं उनके लिए लाभदायक है। रात को बालों को मसाज करने के लिये एक आदर्श केशतेल है। असमय बाल सफेद होना, झड़ना और रुसी से बचने के लिए उपयुक्त।

स्वास्थ्य की देखभाल

क्लीन्टीथ (टूथ पाउडर) — बबूल, त्रिफला, बकुल, पीलू जैसी शुद्ध वनौषधियों से युक्त। मसूड़ों से खून आने जैसी दाँत संबंधी शिकायतों से तुरंत राहत के लिए विशेष तौर से बना। इसमें एस्ट्रीजंट के समस्त गुण हैं। सिंथेटिक टूथपेस्टों के मुकाबले से १०० प्रतिशत सुरक्षित है। अपने दाँत व मसूड़ों पर लगाकर मलिये, फिर पानी से कुल्ला कर लीजिए।

बॉडीलाईन (वजन घटाने के लिए)—

मोटापा कम करने के लिए १०० प्रतिशत प्राकृतिक उपाय, इसमें वनौषधियाँ हैं जैसे-गुलवेल, गुडमार, विजयसार, जामुन और नागरमोथा। आप बिना नुकसान वजन घटा सकते हैं। रोजाना नाश्ते के बाद सूचना अनुसार लें।

कफ-ऑफ (खाँसी के लिए)—

अडुलसा, सुंठी, पिम्पली युक्त पुरानी खांसी का खास वनौषधि उपाय। गले को राहत पहुँचाए, खिचखिच का नामो-निशान मिटायें, खांसी को बिल्कुल ठीक करें। इसमें न तो अलकोहल है और न ही इससे धड़कन तेज होने और सुस्ती आने जैसे असर होते हैं।

हृदय (हृदय शक्तिवर्धक)—

यह टानिक हृदय को टोन-अप करता है। अर्जुन, अश्वगंधा और शतावरी का कमाल। रोजाना दूध में लें, इससे ६ महीने में यह आपकी जिंदगी में हार्दिक परिवर्तन कर देगा।

लिवेरीन (यकृत बलवर्धक)—

कुटकी, भुई आमला, अनीस ऑइल, अ‍ेलो इत्यादि मिलकर श्रेष्ठ लिवर टॉनिक बन जाते हैं। तथा लिवर जैसे महत्वपूर्ण अंग को क्रियाशील व पुनर्जीवित कर देता है। इस मिश्रण को पानी में घोलकर उबालें तथा ङ्खंडा करके छान लें। अच्छे स्वास्थ्य के लिए नियमित नाश्ते के बाद इसे लें।

ईजी-वे (कब्ज के लिए)—

तनाव और अनाप-शनाप खाने की आदतों से कब्ज होती है। सोनामुखी, त्रिफला और काला नमक युक्त ईजी-वे पेट को हल्का रखता है। भारीपन व गैस के एहसास को खत्म करता है। एक से दो चम्मच पाउडर लेकर एक कप पानी में मिलाइए और सोते समय पी जाइए। जब आवश्यकता हो तभी लीजिए।

डीटॉक्स (रक्त शुद्धि के लिए)—

डीटॉक्स हमारे शरीर में जमा टॉक्सिन को दूर करते हैं, जिसका असर हमारी त्वचा और बालों पर होता है, मुँहासों, चकतों और दागों के इलाज में गुणकारी है, इसमें है नीम, अ‍ेलो वेरा, ब्राह्मी, अंबा हल्दी आदि डीटॉक्स टॉक्सिन शुद्ध करता है और एक बेहतर स्वास्थ्य प्रदान करता है।

इसेंशियल ऑइल्स (अरोमा थेरपी-सुगंधी उपचार तेल)

आल्मंड क्लेरीसेज ज्योतिष्मती पेपरमिंट

अनीस क्लोवलीफ रवस पचौली
अ‍ॅप्रिकॉट क्लोव बड लेमन रोजवूड
अ‍ॅव्होवॅडो केमोमाईल लॅव्हेंडर रोज
बेसिल सिनॅमून लेमनग्रास रोजमेरी
बरग्यामट सिट्रोनेला मोतिया रोशा सोफिया-जे
ब्लैकपिपर युवैलिप्टस नीम टेगीटस
केड जेरेनियम नस्य तुलसी
केम्फर जिंजरग्रास नेरोली तील तेल
कारडामोम जिंजर नटमेग टी ट्री
सेडार ग्रेपसिड ऑलिव्ह वेटीवर्ट
चंदन जास्मिन ओ.आर.पी.एल. व्हीटजर्म
चौलमुग्रा ज्युनिपर ऑरेंज (संतरा) वोलनट
केलामस जोजोबा पामारोशा यॅलैंग यॅलैंग

सिंगल हर्बल पाउडर

—५० ग्राम पैक/बोतल में—

अनंतमूल गोरखमुंडी कुलिंजन लाल (रक्त) चंदन

अडुलसा गुडमार कुटकी संतरा छाल
कोरफड (कुमारी) गिलोय लोध्रा शतावरी
आमला गुलाब माका (भृंगराज) सीकाकाई
अर्जुन हरडा मंजिष्ठ सोनामुखी (सेन्ना)
अश्वगंधा निली (इंडिगो) मेंहदी सीताफल
आमहल्दी जामुुन मुलतानी मिट्टी सुंठी
बबूल जटामांसी मंडूर शंखपुष्पी
बवूâल गुडहर (जबाकुसुम) नीम तुलसी (बेसील)
ब्राम्ही मुलेठी नागरमोथा उंबरसाल
बावची कचूर सुगंधी पपैया वावडिंग
बेहडा खैर पुदीना वेखंड
चंदन खस पीपली विदारीकंड
दाडीम काला नमक रीठा (अरीठा) विजयसार

इन उत्पादों को प्राप्त करने हेतु सम्पर्क सूत्र है—

डॉ. जैन्स फॉररेस्ट हर्बल्स प्रा.लि.
राज इंडस्ट्रियल काँप्लेक्स, यूनिट नं.ए-१०, दूसरी मंजिल,
मिलिटरी रोड, मरोल, अंधेरी (पूर्व), मुम्बई (महा.)-४०००५९

फोन नं.-२९२०१६९७,फैक्स- ९१-२२-२९२० १४४१