Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


गणिनीप्रमुख श्री ज्ञानमती माताजी ससंघ का मंगल चातुर्मास टिकैतनगर-बाराबंकी में चल रहा है, दर्शन कर लाभ लेवें |

पारस चैनल पर प्रातः ६ से ७ बजे तक देखें जिनाभिषेक एवं शांतिधारा पुन: ज्ञानमती माताजी - चंदनामती माताजी के प्रवचन ।

पंच अणुव्रत

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

पंच अणुव्रत- हिंसा, झूठ, चोरी,कुशील और परिग्रह इन पाँच पापों को एक देश त्याग करना पंच अणुव्रत कहलाता है । इनका पालन करने वाले श्रावक अणुव्रती होते हैं और वे नियम से स्वर्ग को प्राप्त करते हैं ।