Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


पूज्य गणिनीप्रमुख श्री ज्ञानमती माताजी ससंघ ऋषभदेवपुरम्-मांगीतुंगी में विराजमान है ।

प्रतिदिन पारस चैनल के सीधे प्रसारण पर प्रातः 6 से 7 बजे तक प.पू.आ. श्री चंदनामती माताजी द्वारा जैन धर्म का प्रारंभिक ज्ञान प्राप्त करें |

भजन संग्रह भाग - 03

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज



जय वीतराग विज्ञान दर्शन पाठ

शांति पाठ

कंचन की थाली(आरती)

चंदा स्वामी

सम्पूर्ण णमोकार मंत्र

स्वस्ति मंगल पाठ

नीलकमल सी

चंदा बाबा ने बुलाया

ऊँचा हे धाम

सखी सिया

कोटि कोटि नमन

पैसा पैसा

जय जिनेन्द्र

में तपो पहाड चडी

तीरथ करने जून

जाना हें तीर्थराज

गुरु मुद्रा ले कर

नाचू कुंडल पुर के आंगन

सोना चांदी नहीं मांगू

मंत्र णमोकार

वीरा वीरा बोलो

शांति ओम है

सीमाए बंधन

आप शिखर जी

तेरे हांथो की लकीर

हस्तिनापुर सब चलो

चंदा बाबा ने बुलाया

टीले वाले वीर जी