वीतराग

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

वीतराग –Vitaraga. One free from all passions and attachments, or passionless one. जहां मोह का उदय न राह हो | आत्म साधन के द्वारा जिन्होंने राग-द्वेष को नष्ट कर दिया है उन्हें वीतराग कहते हैं | अरिहंत भगवान पूर्ण वितारागी होते हैं |