Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


पूज्य गणिनीप्रमुख श्री ज्ञानमती माताजी ससंघ ऋषभदेवपुरम्-मांगीतुंगी में विराजमान है ।

प्रतिदिन पारस चैनल के सीधे प्रसारण पर प्रातः 6 से 7 बजे तक प.पू.आ. श्री चंदनामती माताजी द्वारा जैन धर्म का प्रारंभिक ज्ञान प्राप्त करें |

श्रेणी:अभिषेक-पाठ

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अभिषेकपाठ संग्रह

( विशेष पठनीय )

इस अभिषेकपाठ संग्रह में पण्डित श्री पन्नालाल जैन सोनी - झालरापाटन ( राज० ) द्वारा संग्रहीत सोलह प्रकार के अभिषेकपाठ दिये गये हैं ।
वीर निर्वाण संवत् - २४६२ ,विक्रम संवत् - १९९२ एवं ईसवी सन् - १९३६ में इस पुस्तक का प्रकाशन पं. इन्द्रलाल जैन शास्त्री ने बनजी ठोलिया दिगम्बर जैन ग्रन्थमाला - जयपुर ( राज० ) के माध्यम से महावीर प्रेस, किनारी बाजार- आगरा द्वारा कराया था ।
इसमें श्री पूज्यपाद आचार्य रचित संस्कृत के अभिषेकपाठ का हिन्दी पद्यानुवाद पूज्य गणिनीप्रमुख श्री ज्ञानमती माताजी ने किया है,जो वर्तमान में काफी प्रचलित है ।
इन सभी को पढ़कर आप अपने पूर्वाचार्यों पर श्रद्धा करते हुए सम्यक्दृष्टि बने यही मंगल कामना है ।

"अभिषेक-पाठ" श्रेणी में पृष्ठ

इस श्रेणी में निम्नलिखित २० पृष्ठ हैं, कुल पृष्ठ २०

भ आगे.