ऊँ ह्रीं श्री ऋषभदेवाय नम:।

Whatsappicon.png
Whatsappicon.png
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें |


पूज्य गणिनीप्रमुख आर्यिकाशिरोमणि श्री ज्ञानमती माताजी द्वारा देश के समस्त जैन विद्वानों के लिए विशेष सैद्धांतिक विषयों पर ऋषभगिरि-मांगीतुंगी से विद्वत प्रशिक्षण शिविर का पारस चैनल पर ४ दिसंबर २०१६- रविवार से सीधा प्रसारण चल रहा है | घर बैठे देखकर अवश्य ज्ञान लाभ लें |

02. अणु से लेकर धैर्य तक

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


विषय सूची

[सम्पादन]
अणु

ब्रह्माणु वह एक अणु है, जिसे विज्ञान भी परखनली में

रखकर नहीं परख सकता।
ATOM
BRAHMANU IS A PARTICLE WHICH CAN NOT
BE TESTED IN THE TEST-TUBE
OF SCIENCE.


[सम्पादन] भरोसा

मुझे अपनी मौत पर पूरा यकीन है, मगर जिन्दगी
का कोई भरोसा नहीं
BELIEF
I BELIEF CERTAINLY ABOUT MY DEATH BUT
I DO NOT BELIEVE ABOUT MY LIFE.


[सम्पादन] सदाचार

मैं उस संसार में रहना चाहूँगा, जहाँ सदाचार का
सिक्का चलता है।
GOOD CHARACTER
I WILL LIKE TO LIVE IN THAT WORLD WHERE
THE COIN OF GOOD CHARACTER
IS IN FORCE.


[सम्पादन] मधुर

नारी कोमल कृति है, जिसके हृदय पर आप अधिकार चाहते
हैं तो आपको मधुरता से पेश आना होगा।
SWEETNESS
WOMAN IS A DELICATE CHEATION. IF YOU
WANT TO CONQURE THE FORT OF HER
HEART, YOU SHOULD BEHAVE WITH
SWEETNESS.


[सम्पादन] वस्त्र

यदि नारी ने सच्चरित्र के वस्त्र धारण किये हों,
तो उसके आँचल में दाग नहीं ढूँढ़ा जा सकता।
WRAPPER OF PURITY
IF A WOMAN HAS A WRAPPER OF PURITY IN
HER CHARACTER, THERE WOULD NOT
BE INFLICTED BLOTS.


[सम्पादन] लावा

नारी की क्रोधाग्नि नर के जीवन में लावा उगल सकती है।
Images (1)559+.jpg

FIRE
A WRATHFUL WOMAN CAN PRODUCE FIRE
IN A MAN'S LIFE.



[सम्पादन] खिलौना

वर्तमान जीवन एक ऐसा खिलौना है जिसे तोड़ने के

लिए सब खेलते हैं।
Images++96325.jpg

TOY OF LIFE
THE PRESENT LIFE IS SUCH A TOY WHICH
IS PLAYED BY ALL TO DISGRACE IT.



[सम्पादन] प्यार

प्यार, दो आत्माओं की वह एक प्यास है, जिसकी धारा होठों
से टकराकर आँखों से बहती है।
THURST
LOVE IS A THURST OF TWO SOULS WHICH
STRIKES LIPS AND FLOWS FROM EYES.


[सम्पादन] निमित्त

मौत शरीर के ढाँचे को बदलने वाला एक
निमित्त मात्र है।
CAUSE
DEATH IS ONLY A CAUSE OF CHANGING
THE STRUCTURE OF BODY.


[सम्पादन] धैर्य

संघर्ष के क्षणों में मस्तिष्क पर नियन्त्रण रखकर, हृदय पर धैर्य
का घूँघट डाल दिया जाए, तो हार के होंठ जिन्दगी
की दुल्हन को चूम नहीं सकते।
PATIENCE
DURING THE MOMENTS OF STRUGGLE
KEEPING A HOLD ON MIMD, IF HEART IS
VEILED WITH PATIENCE, THEN IT IS
IMPOSSIBLE FOR LIPS OF DEFEAT TO
KISS THE VIRGIN OF LIFE.