Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


पू० गणिनी श्रीज्ञानमती माताजी ससंघ मांगीतुंगी के (ऋषभदेव पुरम्) में विराजमान हैं |

20. दया की मिशाल:पक्षियों का अस्पताल

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


दया की मिशाल:पक्षियों का अस्पताल

Scan Pic0019.jpg

देश का अनूठा चिकित्सालय लगभग ८० वर्ष पूर्व श्री दिगम्बर जैन लाल मंदिर परिसर, चाँदनी चौक दिल्ली में स्थापित किया गया था। यह चिकित्सालय आज विकसित और आधुनिक चिकित्सा पद्धतियों से पक्षियों की सेवा कर रहा है। यहाँ लाये गए बीमार पक्षियों को उपचार के बाद छोड़ दिया जाता है। प्रतिवर्ष लगभग २५ हजार पक्षियों की चिकित्सा यहाँ होती है। उपचार के उपरांत पक्षियों को शाकाहारी भोजन दिया जाता है। चौबीस घंटे कम्पाउंडर व अन्य कर्मचारी यहाँ रहते हैं। स्वस्थ पक्षियों के लिए दाना—पानी की व्यवस्था भी यहाँ है। पत्राचार, टेलीफोन से भी दूर—दूर के पक्षियों की चिकित्सा के उपाय अनुभवी डॉक्टर यहाँ से बताते हैं।