Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


पू० गणिनी श्रीज्ञानमती माताजी ससंघ मांगीतुंगी के (ऋषभदेव पुरम्) में विराजमान हैं |

ऋजुत्व

ENCYCLOPEDIA से
Dikshit (चर्चा | योगदान) द्वारा परिवर्तित १०:१९, ४ जून २०१३ का अवतरण (''''ऋजुत्व'''<br /> To be well versed in telepathic knowledge (Manah Paryaya Gyan). यर्थात मन, वचन ...' के साथ नया पृष्ठ बनाया)

(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

ऋजुत्व
To be well versed in telepathic knowledge (Manah Paryaya Gyan). यर्थात मन, वचन और कायिक चेष्टागत होने से ऋजुमति मन पर्ययज्ञान में ऋजुत्वपना है।