चतुष्टय

ENCYCLOPEDIA से
Utkarsh jain (चर्चा | योगदान) द्वारा परिवर्तित ०९:५०, १२ जून २०१३ का अवतरण (''''चतुष्टय'''<br /> Infinite perception-knowledge-bliss and potence togetherly called Chatushtay. अनंतदर्...' के साथ नया पृष्ठ बनाया)
(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

चतुष्टय
Infinite perception-knowledge-bliss and potence togetherly called Chatushtay.

अनंतदर्शन ,अनंतज्ञान ,अनंतसुख, अनंतवीर्य ये चार अनंतचतुष्टय कहलाते हैं ।