Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


डिप्लोमा इन जैनोलोजी कोर्स का अध्ययन परमपूज्य प्रज्ञाश्रमणी आर्यिका श्री चंदनामती माताजी द्वारा प्रातः 6 बजे से 7 बजे तक प्रतिदिन पारस चैनल के माध्यम से कराया जा रहा है, अतः आप सभी अध्ययन हेतु सुबह 6 से 7 बजे तक पारस चैनल अवश्य देखें|

१८ अप्रैल से २३ अप्रैल तक मांगीतुंगी सिद्धक्ष्रेत्र ऋषभदेव पुरम में इन्द्रध्वज मंडल विधान आयोजित किया गया है |

२५ अप्रैल प्रातः ६:४० से पारस चैनल पर पूज्य श्री ज्ञानमती माताजी के द्वारा षट्खण्डागम ग्रंथ का सार प्रसारित होगा |

चित्र:Jain temple (11).jpg

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज
मूल फ़ाइल(९०० × ५९० चित्रतत्व, संचिका का आकार: ७५ KB, माइम प्रकार: image/jpeg)

यह फ़ाइल एक साझे भंडार से है और अन्य परियोजनाओं द्वारा भी प्रयोग की जा सकती है। वहाँ पर इसके फ़ाइल विवरण पृष्ठ में मौजूद विवरण निम्नोक्त है।

फ़ाइल का इतिहास

फ़ाइल पुराने समय में कैसी दिखती थी यह जानने के लिए वांछित दिनांक/समय पर क्लिक करें।

दिनांक/समयअंगूठाकार प्रारूपआकारसदस्यटिप्पणी
सद्य०१:५८, ११ फ़रवरी २०१७०१:५८, ११ फ़रवरी २०१७ के संस्करण का अंगूठाकार प्रारूप।९०० × ५९० (७५ KB)Jainudai

निम्नोक्त पृष्ठ में इस फ़ाइल की कड़ियाँ हैं:

मेटाडाटा