Whatsappicon.jpg
Whatsappicon.jpg
ज्ञानमती नेटवर्क से जुड़ने के लिये ADD ME < मोबाइल नं.> लिखकर +91 7599002108 पर व्हाट्सएप पर मेसेज करें|


आचार्य शांतिसागर मुनि दीक्षा शताब्दी वर्ष समारोह का 20 मार्च को मध्यान्ह 4 से 5 पारस पर हुआ सीधा प्रसारण- देखें जिओ टीवी.पर

पारस चैनल पर प्रातः ६ से ७ बजे तक देखें पू.श्री ज्ञानमती माताजी एवं श्री चंदनामती माताजी के प्रवचन |

शांतिनाथ जी की जन्मभूमी को नमूँ

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


शांतिनाथजी की जन्मभूमि को नमूँ

555.jpg
तर्ज—धीरे-धीरे बोल कोई सुन ना ले......
शांतिनाथजी की जन्मभूमि को नमूँ,

भूमि को नमूँ, जन्मभूमि को नमूँ।।
हस्तिनापुरी शुभ धाम है, जहाँ जम्बूद्वीप महान है।।शांति.।।टेक.।।
माता ऐरावति को स्वप्न दिखे जहाँ,
विश्वसेन पितु दान किमिच्छक दें जहाँ।
धनकुबेर ने रत्नवृष्टि की थी जहाँ,
उत्सव करने इन्द्र स्वयं आये जहाँ।।
उस तीर्थ को, वन्दन करो-२,
हस्तिनापुरी शुभ धाम है, जहाँ जम्बूद्वीप महान है।।शांतिनाथ...।।१।।
ऐसे ही प्रभु कुंथु अरह के जन्म से,
इस नगरी के नर-नारी सब धन्य थे।
मात-पिता उनके भी सुर-नर वंद्य थे,
आत्मगुणों से जिनवर खुद अभिवंद्य थे।।
उस तीर्थ को, वंदन करो-२,
हस्तिनापुरी शुभ धाम है, जहाँ जम्बूद्वीप महान है।।शांतिनाथ...।।२।।
गणिनी माता ज्ञानमती की प्रेरणा,
पाकर तीरथ में आई नवचेतना।
धरती का यदि स्वर्ग तुम्हें है देखना,
इसकी छवि ‘‘चंदनामती’’ बस देखना।।
उस तीर्थ को, वंदन करो-२
हस्तिनापुरी शुभ धाम है, जहाँ जम्बूद्वीप महान है।।शांतिनाथ...।।३।।

RED ROSE11.jpg