अकुशलानुबन्धी

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

अकुशलानुबन्धी
Fruition and destruction of karmas in their right time. सविपाक निर्जरा-अपने समय से स्वयं कर्मों का उदय में आकार झड़ते रहना।