दफ्तर में तनाव बढ़ा सकता है मोटापा

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


दफ्तर में तनाव बढ़ा सकता है मोटापा

रॉयल प्री एण्ड यूनिवर्सिटी कॉलेज लंदन के मेडिकल स्कूल के डॉक्टर इरिक जे बर्नर ने अपने एक शोध में पाया है कि कार्यालय में या नौकरी के दौरान जिस मनुष्य को अधिक तनाव होता है। उसके मोटे होने की आशंका अधिक हो जाती है। शोधकर्ताओं ने ३५ साल से ५५ साल तक की आयु वर्ग के ६८९५ पुरूषों और ३४१३ महिलाओं पर १९ साल तक प्रयोग किए । इस शोध में पाया गया कि जिन लोगों को किसी न किसी कारण से कार्यालय में तनाव रहता था, उनमें से ७३ प्रतिशत लोगों के शरीर में इस दौरान चर्बी बढ़ गई, जबकि जिल लोगों को तनाव कम था, उनमें मोटापा भी कम पाया गया। यह भी पाया गया कि इस तनाव के कारण उनकी कमर के गिर्द चर्बी का घेरा बन गया जो पुरुषों में ४१ इंच और महिलाओं में ३५ इंच से भी अधिक हो गया । अत: यदि आपके कार्यालय का माहौल ऐसा है जो आपको तनाव दे रहा है तो सावधान हो जाएं। आपके मोटापे का कारण यह भी हो सकता है।

जिनेन्दु अहमदाबाद
७ दिसम्बर, २०१४