यत्याचार

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

यत्याचार–Yatyachar. Name of a book written by Acharya Padmanandi - 7, Well conduct of saints, Great treatises containing description of saints’ conduct. आचार्य पद्मनंदी -7(ई. 1305) की एक रचना,साधुओ के आचार-विचार को यत्याचार कहते है| जिन ग्रंथों में यतियों के आचार आदि का वर्णन हो वे भी यत्याचार कहलाते है| जैसे- मूलाचार, भगवती आराधना आदि|