रत्ननंदी

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

रत्ननंदी - नंदीसंध बलात्कार गण में वीरनंदी न 1 के षिश्य व माणिक्यनंदी न 1 के गुरू। समय ई 639 से 668 Ratnanadi-Name of the disciple of Virnandi-1 and preceptor of Manikyanandi-1