06. संविधान सभा में जैन

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


संविधान सभा में जैन

Varshayog Stapana Final.jpg

भारत का संविधान २६ जनवरी, १९५० को लागू हुआ, जिसे गणतंत्र दिवस के रूप में प्रतिवर्ष मनाते हैं। संविधान सभा लगभग ३ वर्ष (२ वर्ष, ११ महीने, १७ दिन) कार्यरत रही। उसके कुल ११ सत्र हुए और १६५ बैठकें हुर्इं। प्रारूप समिति की १४१ बैठकें हुर्इं। स्पष्ट है कि हमारी संविधान सभा ने बहुत ही कम दिनों में अपना संविधान बना लिया था। संविधान सभा में लगभग ३५० सदस्य थे, जिसमें ६ जैन सदस्य थे।

  1. श्री अजितप्रसाद जैन, सहारनपुर (उ. प्र.)
  2. श्री कुसुमकान्त जैन, इंदौर (म. प्र.)
  3. श्री भवानी अर्जुन खीमजी, कच्छ (गुज.)
  4. श्री बलवंतसिंह मेहता, उदयपुर (राज.)
  5. श्री रतनलाल मालवीय, सागर (म. प्र.)
  6. श्री चिमनभाई चकुभाई शाह, सौराष्ट्र (गुज.)