08.उत्तम त्याग धर्म की प्रश्नोत्तरी

ENCYCLOPEDIA से
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


दशधर्म प्रश्नोत्तरी

उत्तम त्याग धर्म

Kalish Parvat.jpg

प्रश्न.१ - त्याग धर्म का क्या स्वरूप है ?

उत्तर - संयत के योग्य ज्ञान आदि को देना त्याग है अथवा रत्नत्रय का दान देना त्याग कहलाता है और तीन प्रकार के पात्रों के लिए चार प्रकार का दान देना भी त्याग है।

प्रश्न.२ - त्याग के कितने भेद हैं ?

उत्तर - चार- आहारदान, औषधिदान, शास्त्रदान और अभयदान।

प्रश्न.३ - चारों दानों में प्रसिद्ध व्यक्तियों के नाम बताइए ?

उत्तर - आहारदान में राजा वङ्काजंघ प्रसिद्ध हुए, औषधिदान में श्रीकृष्ण, शास्त्रदान में ग्वाला और अभयदान में सूकर प्रसिद्ध हैं।

प्रश्न.४ - दान किनको देना चाहिए ?

उत्तर - उत्तमपात्र- मुनि - आर्यिका आदि मध्यम पात्र- देशव्रती श्रावक और जघन्यपात्र अर्थात् अविरत सम्यग्दृष्टि श्रावक, इन तीन पात्रों में ही दान देना चाहिए।

प्रश्न.५ - इनको दान देने से क्या फल मिलता है ?

उत्तर - उत्तम पात्र को दिया गया दान उत्तम भोग भूमि को प्राप्त कराता है, मध्यम पात्र में दान देने से मध्यम भोगभूमि प्राप्त होती है तथा जघन्य पात्र को दिया जाने वाला दान जघन्य भोगभूमि की प्राप्ति कराता है।