11. उपशांतमोह गुणस्थान

ENCYCLOPEDIA से
(11. उपशांतमोह से पुनर्निर्देशित)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज


११. उपशांतमोह गुणस्थान

11 va gunstan.jpg

इस गुणस्थान में मोहनीय कर्म की सम्पूर्ण प्रकृतियों का उपशम हो जाने से परिणाम पूर्णतया निर्मल हो जाते हैं और यथाख्यात चारित्र प्रगट हो जाता है अतएव यहाँ उपशांत वीतरागछद्मस्थ कहलाते हैं।